Propeller

अगर 15 अप्रैल के बाद शुरू हुआ आईपीएल, तो देखने को मिल सकते हैं ये 3 बड़े बदलाव

आईपीएल को पहले 29 मार्च से शुरू होना था, लेकिन कोरोना वायरस के भय के चलते बीसीसीआई ने इंडियन प्रीमियर लीग के आगमी सीजन को 15 अप्रैल तक के लिए स्थागित कर दिया है. 15 अप्रैल या उसके बाद  अगर यह टूर्नामेंट शुरू होता है, तो इस आईपीएल में कई बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं. आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में उन्ही बदलाव के बारे में बताएंगे, जो इस आईपीएल में देखने को मिल सकते हैं.

खेले जा सकते हैं ज्यादा डबल हेडर

आईपीएल 2020 का पहले जो कार्यक्रम आया था. उसमे सिर्फ 5 दिन ही डबल हेडर मुकाबले रखे गए थे, लेकिन आईपीएल के स्थगित होने के चलते अब ज्यादा डबल हेडर मैच देखने को मिल सकते हैं.
इस साल के कार्यक्रम में शनिवार को डबल हेडर मुकाबले नहीं रखे गए थे. सिर्फ रविवार को ही डबल हेडर मुकाबले रखे गए थे. हालांकि अब शनिवार को भी बीसीसीआई डबल हेडर मुकाबले रख सकता है. ऐसा भी हो सकता है कि शनिवार और रविवार के अलावा भी डबल हेडर मुकाबले देखने को मिल सकते हैं.

मिल सकते हैं 60 से कम मैच देखने को

आईपीएल में क्रिकेट प्रशंसकों को 60 मैच देखने को मिलते हैं, लेकिन देर से आईपीएल शुरू होने के चलते यह मैचों की संख्या में कुछ कमी आ सकती है. 60 से घटकर यह मैचों की संख्या 40-45 भी हो सकती है.
कम विंडो में 60 मैच कराना काफी मुश्किल हो सकता है. ऐसे में बीसीसीआई को ना चाहते हुए भी 60 से कम मैच कराने के इस कठिन फैसले को लेना पड़ सकता है. अगर आईपीएल 2020 में 60 से कम मैच होते हैं, तो यह दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों के लिए काफी निराशा की बात होगी.

टीम को मिल सकते हैं 14 से कम मैच

अगर आईपीएल में इस बार 60 से कम मैच होते हैं, तो इसका मतलब होगा कि फ्रेंचाइजीयों के मैचों में भी गिरावट आएगी. ऐसे में एक टीम को 10 के करीब मैच मिल सकते हैं.
नियमों के मुताबिक हर एक आईपीएल टीम को बाकि 7 टीमों से 2 मैच खेलना अनिवार्य होता है और ऐसे में उसके कुल 14 मैच हो जाते हैं, लेकिन इस बार बीसीसीआई इस नियम को भी बदल सकती है और टीमों के मैचों को कम कर सकती है.

Post a Comment

0 Comments